फुटबॉल खेल के नियम और फुटबॉल किक के बारे में जानकारी हिंदी में जाने

जैसा हम जानते हैं कि फुटबॉल पूरे विश्व में बहुत ही लोकप्रिय खेल माना जाता है हमने पिछले आर्टिकल में फुटबॉल के इतिहास के साथ-साथ फुटबॉल के कुछ रोचक बातें आपको बताई थी आप इस लिंक के माध्यम से इस आर्टिकल को पढ़ सकते हैं । आज हम आपको फुटबॉल खेल के नियम, फुटबॉल किक ,फुटबॉल खेल में पेनाल्टी के बारे में जानकारी,

फुटबॉल के बारे में रोचक बातें : फीफा वर्ल्ड कप की शुरुआत कब हुई 

आज हम इस आर्टिकल में आपको फुटबॉल खेल के नियम के बारे में बताने वाले तो आइए जानते हैं कौन-कौन से नियम है ? 

फुटबॉल खेल के नियम

फुटबॉल खेल के इतिहास के बारे में जानने के साथ-साथ आपको यह भी जानना जरूरी है कि इस खेल के नियम क्या है इसे कैसे खेला जाता है।  

फुटबॉल मुख्यतः दो टीमों के बीच खेला जाता है जिसमें दोनों टीमों में 11-11 खिलाड़ी मौजूद होते हैं यह खेल का पूरा समय 90 मिनट का होता है। गोल पोस्ट पर गोल बचाने और दूसरे पोस्ट पर गोल करने की कोशिश करते हुए इस खेल में हार-जीत तय किया जाता है जैसे की हम क्रिकेट में देखते हैं कि खेल में एक एंपायर मौजूद होता है ठीक उसी प्रकार फुटबॉल में भी सारी अथॉरिटी रेफरी के पास होती है.

पावर रेफरी का निर्णय सर्वमान्य होता है। रेफरी के साथ इस खेल में एक सहायक रेफरी मौजूद होता है जो रेफरी की सहायता करता है खेल शुरू करने से पहले दोनों टीमों के कप्तानों के  बीच टॉस किया जाता है । 

जीतने वाले कप्तान ही तय करते हैं कि उसकी गोलपोस्ट पर अटैक करना है या बॉल को किक ऑफ यानी किक मारना है। फुटबॉल के खेल में एक दिलचस्प बात यह भी है कि जब भी मैच में कोई गोल किसी भी टीम के द्वारा किया जाता है तब गेंद को सेंट्रल लाइन पर रखकर दोबारा से खेल शुरू किया जाता है। 

फुटबॉल के खेल की जानकारी 

इस खेल की कुछ जानकारियां आप नीचे दिए गए बिंदु से समझ सकते हैं

  • फुटबॉल के खेल में एक स्ट्राइकर होता है जिसका काम गोल मारना होता है।
  • विरोधी टीम के सदस्यों को गोल करने से रोकने वाले खिलाड़ी को डिफेंडर्स कहते हैं।
  • विरोधी टीम से बोल छीन कर अपने आगे खेलने वाले प्लेयर्स को बोल देने का काम जो खिलाड़ी करते हैं उसे मिडफील्डर्स कहां जाता है।
  • गोल कीपर का काम गोल होने से बचाना होता है और उसे यह काम गोल पोस्ट के सामने खड़े रहकर ही करना पड़ता है।

फुटबॉल किक के बारे में जानकारी

फुटबॉल किक

फुटबॉल किक की जानकारी आप नीचे दिए गए बिंदुओं से समझ सकते हैं

थ्रो इन किक 

थ्रो इन किक : इस पिक में जब बोल पूरी तरह से रेखा पार कर जाती है तब उस विरोधी टीम को इनाम में मिलती है जो बॉल आखरी बार छुए होते हैं। 

किक ऑफ

किक ऑफ : गेम टाइम की शुरुआत किक मारने के साथ ही होती है जिसे किक ऑफ कहते हैं। 

इनडायरेक्ट फ्री किक

इनडायरेक्ट फ्री किक : जब किसी विशेष फाउल केवल को बाहर भेज दिया जाता है और खेल रुक जाता है तो टीम को इनडायरेक्ट फ्री किक पुरस्कार में मिलता है। 

कॉर्नर किक

कॉर्नर किक : जब गेंद बिना गोल के ही पूरी तरह गोल रेखा को पार कर जाती है तो डिफेंस करने वाली टीम को आखरी बार चुने के कारण दूसरे टीम को मौका देती है जिसे कॉर्नर किक के नाम से जानते हैं। 

गोल किक

गोल किक : जब बोल गोल रेखा के पार कर जाए तो गोल के बिना ही उसको होता है और अटैकर द्वारा बॉल को आखिरी बार छूने के कारण डिफेंस करने वाली टीम को पुरस्कार के रूप में मिलता है।

फुटबॉल खेल में पेनाल्टी

फुटबॉल खेल में पेनाल्टी होती है जिसे आप इन बिंदुओं से समझ सकते हैं। 

फुटबॉल खेल में पेनाल्टी :

ड्रॉप्ड बॉल 

ड्रॉप्ड बॉल : जब रेफरी किसी दूसरी वजह से खेल को रोक देता है जैसे प्लेयर को गंभीर चोट लगना या फिर गेंद का खराब हो जाना तब इसे ड्रॉप्ड बॉल  कहते हैं।

येलो कार्ड

येलो कार्ड : इस कार्ड का मतलब यह होता है कि खिलाड़ी ने मैदान में कोई गलती की है जिसमें येलो कार्ड दिखाकर रेफरी खिलाड़ी को मैदान से बाहर कर देता है।

रेड कार्ड

रेड कार्ड : खेल में अगर दूसरी बार पीला कार्ड मिल जाता है मतलब की उसे रेड कार्ड मिल चुका है रेड कार्ड मिलने के कारण एक प्लेयर मैदान से बाहर निकाल दिया जाता है तथा उसकी जगह पर कोई दूसरा प्लेयर नहीं आ सकता है। 

ऑफ साइड

ऑफ साइड : इस नियम में आगे के जो खिलाड़ी होते हैं बॉल के बिना बचाव करते दूसरी प्लेयर के आगे नहीं जा सकते खासकर विरोधी टीम के गोल रेखा के एकदम पास नहीं जा सकते हैं।

पेनाल्टी शूटआउट 

पेनाल्टी शूटआउट : लीग खेल में खेल को ड्रॉप के साथ ही खत्म कर सकते हैं परंतु कुछ नॉकआउट गेम्स में अगर खेलते समय टाई रहा तो वह मैच अधिक टाइम तक चल सकता है लेकिन अगर अधिक समय दिए गए अनुसार भी दोनों टीम बराबर बराबर पर हैं तो ऐसी स्थिति में पेनल्टी शूटआउट नियम का प्रयोग किया जाता है इस पेनल्टी नियम के मुताबिक पहले पेनल्टी पॉइंट से किक मारने को कहा जाता है। 

पेनल्टी एरिया 

पेनल्टी एरिया : पेनाल्टी एरिया गोल के सामने का एरिया होता है यह एरिया सर्कल लाइन से पहचाना जा सकता है। यह गोल पोस्ट से 16.5 मीटर की दूरी पर स्थित होता है।

पेनल्टी किक

पेनल्टी किक : यदि गोलकीपर की पोजीशन या डिफेंस करने वाली टीम का कोई खिलाड़ी कॉल कर देते हैं तो सजा के तौर पर पेनल्टी किक दी जाती है। 

दोस्तों मुझे उम्मीद है कि फुटबॉल खेल के नियम,फुटबॉल के खेल की जानकारी, फुटबॉल खेल के नियम,फुटबॉल किक ,थ्रो इन किक ,किक ऑफ,इनडायरेक्ट फ्री किक,कॉर्नर किक,गोल किक,फुटबॉल खेल में पेनाल्टी के बारे में आप समझ चुके होंगे अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो या फिर इसमें कुछ छूट गया हो तो आप हमें कमेंट कर उसकी जानकारी दे सकते है साथ ही साथ आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया के माध्यम से साझा करें।

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment