National Doctors Day,इतिहास,National Doctors Day 2021 theme,- Bidhan Chandra Roy के बारे में

नमस्कार दोस्तों  हिंदटैग.कॉम में आपका स्वागत है, आज हम  आपको बताने वाले हैं आज के इस कठिन दौर में जिसे हम कोविड-19 का दौर कहते हैं उसमें सबसे अहम भूमिका निभाने वाले हमारे डॉक्टरस से संबंधित दिन के बारे में वह दिन है National Doctor Day 2021. तो ही चलते हैं और जानते हैं – National Doctors Day का इतिहास ,डा.बिधानचंद्र राय,डॉक्टर सबसे महत्वपूर्ण क्यों होते है ,National Doctors Day 2021 theme क्या है,National Doctors Day 2021 कब है ,भारत में पहला राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के बारे में : –

National Doctors Day 2021 

National Doctors Day 2021. पहला National Doctors Day - National Doctors Day का इतिहास ,डा.बिधानचंद्र राय ,Doctors Day 2021 theme क्या है
National Doctors Day 2021

National Doctor Day 2021 (राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस) : जब भी कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है तो वह डॉक्टर के पास जाता है, क्योंकि डॉक्टर ही लोगों को कई गंभीर और खतरनाक बीमारियों से बचाते हैं। डॉक्टर को भगवान के समान दर्जा नहीं दिया जाता, उसके पीछे उसकी मेहनत साफ नजर आती है. जब कोई व्यक्ति किसी बीमारी का शिकार होता है तो उसके साथ दुर्घटना हो जाती है या लोग किसी गंभीर बीमारी आदि की चपेट में आ जाते हैं। ऐसे कठिन समय में डॉक्टर ही उनका इलाज करते हैं और उन्हें नया जीवन देने का काम करते हैं। वहीं इस बार कोरोना काल में सभी ने डॉक्टरों की अहमियत को पहचाना. दुनिया ने देखा कि कैसे डॉक्टरों ने मरीजों की जान बचाने के लिए दिन-रात काम किया। डॉक्टरों के सम्मान में हर साल 1 जुलाई को राष्ट्रीय डॉक्टर दिवस मनाया जाता है। तो आइए जानते हैं इस दिन के इतिहास और महत्व के बारे में।

National Doctors Day का इतिहास  

National Doctors Day इतिहास : भारत में पहला राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस (National Doctors Day)1991 में मनाया गया था. दरअसल, भारत में प्राचीन काल से ही वैद्य परंपरा रही है। उदाहरण के लिए, चरक, धन्वंतरि, जीवक, सुश्रुत, आदि। वहीं, भारत में हर साल 1 जुलाई को डॉक्टर बिधानचंद्र राय के जन्मदिन के रूप में डॉक्टर्स डे मनाया जाता है। यहां आपको बता दें कि एक बेहतरीन डॉक्टर के अलावा बिधानचंद्र राय पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं. वर्ष 1991 में केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाना शुरू किया। 1 जुलाई को भारत के सबसे प्रसिद्ध चिकित्सक – डॉ बिधान चंद्र रॉय की जयंती और पुण्यतिथि होती है।  इसलिए यह देश में स्वास्थ्य क्षेत्र में उनके योगदान के लिए एक श्रद्धांजलि है। National Doctor Day 2021 में 1 जुलाई को मनाया जायेगा .

डॉक्टर बिधानचंद्र राय – Bidhan Chandra Roy के बारे में 

का जन्म 1 जुलाई, 1882 को पटना, बिहार में हुआ था।  उन्होंने कलकत्ता से मेडिकल ग्रेजुएशन और लंदन में अपनी MRCP और FRCS डिग्री पूरी की थी।  उन्होंने 1911 में भारत में एक चिकित्सक के रूप में अपना चिकित्सा करियर शुरू किया। फिर वे एक संकाय के रूप में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज में शामिल हो गए और बाद में कैंपबेल मेडिकल स्कूल और फिर कारमाइकल मेडिकल कॉलेज चले गए।

 वह एक प्रसिद्ध चिकित्सक और प्रसिद्ध शिक्षाविद् होने के साथ-साथ एक स्वतंत्रता सेनानी भी थे।  सविनय अवज्ञा आंदोलन के दौरान वे महात्मा गांधी से जुड़े।  बाद में वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेता और तत्कालीन पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री बने।

 देश के लिए अपनी महान सेवा के 80 वर्ष दर्ज करने के बाद 1 जुलाई 1962 को उनका निधन हो गया।  भारतीय चिकित्सा परिषद ने डॉ. बी.सी.  1962 में रॉय नेशनल अवार्ड फंड उनकी स्मृति को बनाए रखने के लिए।  डॉ. बी.सी.रॉय राष्ट्रीय पुरस्कार की स्थापना वर्ष 1976 में चिकित्सा में विभिन्न शाखाओं में विशिष्टताओं के विकास को प्रोत्साहित करने में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं को पहचानने के लिए की गई थी।  डा.बिधानचंद्र राय को 4 फरवरी, 1961 को महान भारतीय नागरिक पुरस्कार “भारत रत्न” से सम्मानित किया गया था।

डा.बिधानचंद्र राय अपनी आय दान करते थे

डा.बिधानचंद्र राय जो कुछ भी कमाते थे, वह सब कुछ दान कर देते थे। वे लोगों के लिए एक रोल मॉल हैं। जिस समय भारत स्वतंत्रता संग्राम लड़ रहा था, उस समय बिधानचंद्र ने निस्वार्थ भाव से घायलों और पीड़ितों की सेवा की थी। अगर यह कहा जाए कि बिना डॉक्टर के समाज की कल्पना करना असंभव है तो शायद इसमें कुछ गलत नहीं होगा।

डॉक्टर सबसे महत्वपूर्ण क्यों होते है 

डॉक्टर सबसे महत्वपूर्ण होते है क्योंकि कोई भी व्यक्ति हर दिन एक जैसा नहीं रहता। अगर वे आज स्वस्थ हैं तो कल बीमार हो सकते हैं। इसलिए उसे डॉक्टर के पास जाना पड़ता है। ऐसे कई मरीज डॉक्टर के पास भी आते हैं, यह देखकर कि उनकी जान बचाना असंभव है, लेकिन डॉक्टर अपने ज्ञान और दवाओं के जरिए उस मरीज को एक नया जीवन देते हैं। हालांकि, जब खबर आती है कि डॉक्टरों की टीम पर हमला किया गया तो सभी मायूस हो जाते हैं.

National Doctors Day 2021 theme

National Doctors Day 2021 theme : राष्ट्रीय चिकित्सा दिवस 2021 का थीम है “ फैमिली डॉक्टर  के साथ भविष्य निर्माण ”

अनगिनत डॉक्टर इस संकट के दौरान प्राथमिक और माध्यमिक देखभाल सुविधाओं के साथ-साथ विशेषज्ञ भी कोविड-19 के उपचार केंद्रों पर काम कर रहे हैं इस बार का यह प्रयास मायने रखता है. 

National Doctors Day 2021 कब है 

 इस वर्ष 1 जुलाई को राष्ट्रीय डॉक्टर दिवस (National Doctors Day) मनाया जाना है.

पहला National Doctors Day कब मनाया गया था ?

भारत में पहला राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस (National Doctors Day)1991 में मनाया गया था.

National Doctors Day 2021 पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का tweet

Read more What is hindi day ( हिंदी दिवस क्या है?)

यहाँ से रेटिंग दें post

Leave a Comment